हाथरस गैंगरेप: उत्तर प्रदेश सरकार और पुलिस के खिलाफ क्यों फूटा देश की जनता का गुस्सा?

जहां एक तरफ भारत की मोदी सरकार बेटी बचाओ बेटी का नारा दे रही है।तो वही दिन उत्तर प्रदेश के साथ-साथ पूरे भारत के अलग-अलग राज्यों में महिलाओं के साथ खुलेआम बलात्कार और हत्याओं की घटना दिनदहाड़े हो रही हैं।

तो वही राज्य की सरकारें हत्या/बलात्कार की घटनाओं को आम मानकर ठंडे बस्ते में डाल देते हैं। पता चलता है कि देश की सरकार महिला अत्याचार जैसे गंभीर मुद्दे पर कितना कार्रवाई करने में करती है।

हाथरस रेप कांड जैसे गंभीर मुद्दे को लेकर जहां एक तरफ उत्तर प्रदेश की सरकार अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई करने में कोई रुचि नहीं दिखा रही है तो वही तरफ तो वहीं दूसरी तरफ उत्तर प्रदेश सरकार भी हाथरस रेप कांड को लगातार दबाने की कोशिश कर रही है।

तो वहीं दूसरी तरफ जैसी जैसी उत्तर प्रदेश सरकार व पुलिस मामले को दबाने की कोशिश कर रही वहीं दूसरी तरफ सरकार और पुलिस के खिलाफ पूरे देश से हाथरस गैंगरेप हत्याकांड में न्याय दिलाने के लिए आगे आ रहा है।

ऐसे में उत्तर प्रदेश के 7 साल पूरे देश की जनता एकजुट होकर हाथरस की बेटी को न्याय दिलाने के लिए हुंकार भर रहे हैं। इसी गंभीर मुद्दे को लेकर पूरे देश से बहुजन समाज के लोग हाथरस रेप कांड की बेटी को न्याय दिलाने के लिए बड़े-बड़े आंदोलन करने की धमकी दे रहे हैं।

Do you need digital marketing services

आजाद समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष माननीय चंद्रशेखर आजाद जी भी कई दिन से दिल्ली के सफदरगंज अस्पताल के सामने धरने पर बैठकर आंदोलन कर रहे हैं। श्री चंद्रशेखर आजाद की बेटी के लिए मांग है कि उत्तर प्रदेश सरकार 2 करोड रुपए मुआवजा दें और फास्ट ट्रैक अदालतों गठन कर आरोपी के खिलाफ फांसी को फांसी दी जाए।

जिसको दिल्ली पुलिस में गिरफ्तार कर लिया है और उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री एवं बहुजन समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती जी लगातार आरोपी के खिलाफ ट्विटर पर बार कर रही है उनके निर्देश पर बहुजन समाज पार्टी जिले के हर मुख्यालय पर धरना प्रदर्शन कर रही है। इसके साथ साथ बसपा प्रमुख मायावती की मांग है गैंगरेप के आरोपी की फास्ट ट्रैक अदालत गठन कर उनको फांसी दी जाए। इसके साथ साथ समाजवादी पार्टी भी पूरे प्रदेश में बेटी को न्याय दिलाने के लिए युद्ध स्तर पर काम कर रही है।

www.sbrlhosting.com

हाथरस की बेटी के साथ गैंग रेप करके रीड की हड्डी टूटने वाले व जीभ काटने वाले नामर्द अपराधियों के खिलाफ उत्तर प्रदेश सरकार इसलिए कार्रवाई करने से कन्नी काट रही है क्योंकि सारे बलात्कार के आरोपी ठाकुर हैं।

हाथरस रेप कांड के बाद ट्विटर पर इस कदर गुस्सा फूटा है लोग चारों आरोपियों को फांसी की मांग कर रहे हैं। लेकिन उत्तर प्रदेश सरकार लगातार कार्यवाही का भरोसा देकर उसे ठंडे बस्ते में डालने की कोशिश करें।

ट्विटर पर अनु प्रसाद लिखती हैं कि हैदराबाद में प्रियंका रेड्डी के साथ रेप करने वाले को हैदराबाद पुलिस दिनदहाड़े एनकाउंटर कर देती है। तो उत्तर प्रदेश पुलिस हाथरस गैंगरेप के आरोपियों के खिलाफ एनकाउंटर करने से पीछे क्यों पीछे हट रही है। क्या उत्तर प्रदेश पुलिस को अधिकार नहीं है वह अपराधी के खिलाफ कुछ कार्यवाही कर सके।

जिस तरह हाथरस में एक दलित बेटी को दिनदहाड़े गैंग रेप कर उसकी रीढ़ की हड्डी तोड़ना और उसके बाद जीप काटना बेहद संवेदनशील मुद्दा है। जिस पर उत्तर प्रदेश सरकार को तुरंत एक्शन लेते हुए आरोपी के खिलाफ फांसी की मांग करना चाहिए। ऐसी स्थिति में अब देखना यह कि उत्तर प्रदेश सरकार के आरोपी के खिलाफ फांसी का फरमान जारी करेगी क्या उत्तर प्रदेश सरकार आरोपियों के खिलाफ इन काउंटर का फरमान जारी करेगी। क्या उत्तर प्रदेश सरकार बलात्कार के आरोपियों के खिलाफ कोई बड़ा एक्शन लेगी। ताजा जानकारी के लिए जुड़े हमारे साथ

Team Tiger post news

Advertisement

Do you need

Webhosting/SEO/SMM/Webdesign/PPC/facebookads/ Now Get start

One thought on “हाथरस गैंगरेप: उत्तर प्रदेश सरकार और पुलिस के खिलाफ क्यों फूटा देश की जनता का गुस्सा?”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *